Toyota और Suzuki अब मिलकर बनायेंगे सस्ती इलेक्ट्रिक कार, 2025 में होगी लांच|Toyota Suzuki alliance to launch electric car in India

संक्षेप – बहुत समय से टोयोटा और सुजुकी EV से दूर रह रही थी लेकिन अब इस हेडिंग Toyota Suzuki alliance to launch electric car in India को पढकर आप भी समझ गये होंगे कि दोनों कंपनिया समय रहते ही समय की आवश्यकता को समझ चुकी है इसलिये अब भारतीय 2024 के अंत में अथवा 2025 की शुरूआत में इस एलायंस से एक अफोर्डेबल इलेक्ट्रिक कार की आशा कर सकते हैं ।

इलेक्ट्कि व्हीकल्स के लिये भारत सरकार के द्वारा दिये जाने वाले जबरदस्त बढावा को देखते हुये टोयोटा और सुजुकी की भारत स्थित ब्रांचो ने अब मिलकर एक शुद्व इलेक्ट्रिक कार प्लेटफार्म पर काम करना शुरू कर दिया है ।

Toyota Suzuki alliance to launch electric car in India
Toyota Suzuki alliance to launch electric car in India

Business Standard के अनुसार टोयोटा और सुजुकी दोनों कंपनिया मिलकर इस प्रकार के एक प्रोजक्ट पर काम कर रहे हैं कि अगले 5 सालों में अल्टरनेटिव पावरट्रेन से युक्त मॉडल्स की एक सीरीज लांच की जायेगी ।

Toyota Suzuki alliance to launch electric car in India by 2025

जब सभी कंपनिया धीरे धीरे इलेक्ट्रिक कार के फील्ड में उतर रही है तो आपके मन में यह प्रश्न आता होगा कि is maruti coming with the electric car? तो आपके इस प्रश्न का उत्तर देते हुये हम आपको बतला दें कि टोयोटा और Maruti Suzuki में भारत में इलेक्ट्रिक कार बनाने को लेकर संधि हो चुकी है और मारूति सुजुकी इस प्रोजक्ट को लीड कर रही है ।

सूत्रों के अनुसार हम 2024 के लास्ट में या 2025 के शुरू तक इस प्रोजक्ट से एक किफायती इलेक्ट्रिक कार की आशा कर सकते हैं । मारूति सुजुकी इसके लिये 15 दिन पहले ही अपने सप्लायर्स से कोटेशंस भी मांग चुकी है ।

अक्टूबर माह में ही मारूति के चेयरमैन R.C. भार्गव ने कहा था कि कंपनी 2025 तक ही इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के सेगमेंट में एंट्री करेगी क्योंकि अभी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की डिमांड कम है और कंपनी का लक्ष्य है कि इलेक्ट्रिक व्हीकल्स लांच करने के बाद यह कम से कम 10,000 युनिट प्रति माह बेचे ।

डवलेपिंग और टेस्टिंग है जारी

MSIL के स्पोकपर्सन ने जैसा बिजनेस स्टैंडर्ड को बतलाया उसके अनुसार आने वाला मॉडल का डवलपमेंट और टेस्टिंग जारी है हालांकि अभी तक मैन्युफैक्चरिंग प्लांट का निर्णय नहीं हुआ है । इससे साथ ही उसने यह भी जोङा कि कंपनी अपनी पॉलिसी के अनुसार अफवाहों पर कोई उत्तर नहीं देना चाहती ।

इसी दौरान Toyota Kirloskar Motor के एक स्पोकपर्सन ने यह भी कहा कि दोनों कंपनियों का यह एलांयस दोनों कंपनियों की प्रतिस्पर्धा को बल देगा और लंबे समय में देखा जाये तो पर्यावरण मित्र और सुरक्षित व्हीकल्स बनाने की दिशा में यह पहला कदम होगा ।

इसके साथ ही दोनों कंपनियों की यह पार्टनरशिप हमें बाजार की प्रतिस्पर्धामत्कता बढाने और बेहतर कारों का निर्माण करने और बदलते बाजारों की बढती आशाओं को पूरा करने में भी सहायता करेगी ।

भारत से विदेशों में एक्सपोर्ट होंगी इलेक्ट्रिक कारें

दोनों कंपनियों का कहना है कि दोनों कंपनिया मिलकर जिन इलेक्ट्रिक कारों का निर्माण करेंगी वे न केवल भारत में ही बेची जायेंगी बल्कि उनका एक्सपोर्ट यूरोप और थाइलेंड में भी किया जायेगा । दोनो कंपनियां मिलकर 1,14,000 युनिट मॉडल प्रति वर्ष बनाने का प्लान कर रही हैं । इलेक्ट्रिक कार के प्रत्येक मॉडल पर टोयोटा और सुजुकी का बैज होगा ।

जैसा कि आप पहले से ही जानते हैं कि 2018 में भी दोनो कार निर्माता कंपनियों ने एक डील की थी जिसके अंतर्गत यह शामिल था कि दोनों कंपनिया भारत और कुछ अन्य बाजारों में अपने मॉडल्स और तकनीक को आपस में शेयर करेंगे । इसी डील के परिणामस्वरूप टोयोटा मारूति को बलेनो को ग्लांजा के नाम से बेचती है और विटारा ब्रेजा को अरबन क्रूजर के नाम से रीबैज कर बेचती है ।

मारूति कर सकती है अगले साल एक हाइब्रिड कार लांच

इसके अलावा हम आपको बतला दें कि मारूति सुजुकी अगले साल तक एक नया हाइब्रिड व्हीकल भी लांच कर सकती है । कंपनी ग्रीन मोबिलिटी जैसे कि इलेक्ट्रिक व्हीक्लस, हाइड्रोजन फ्यूल सैल व्हीकल, फ्लैक्सी फ्यूल व्हीकल और सीएनजी व्हीकल्स पर पहले से ही काम कर रही है ।

भारत का पहला लिथियम आयन सैल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट पहले से ही मारूति के Toshiba and Denso Corporation के साथ Joint Venture द्वारा गुजरात में स्थापित किया जा चुका है ।

आपको बतला दें कि अभी हाल ही में Vibrant Gujrat Summit से पहले ही एक कार्यक्रम में मारूति और टोयोटा ने अपने मजबूत हाइब्रिड वाहनों का प्रदर्शन किया जिसमें टोयोटा ने Mirae और Camry हाइब्रिड का प्रदर्शन किया । वाइब्रेंट गुजरात समिट में आशा की जा रही है कि टोयोटा अपने और हाइब्रिड वाहनों का और मारूति अपनी बैटरी बनाने की क्षमताओं का प्रदर्शन करेगी ।

FAQs

  1. क्या मारूति एक इंडियन कंपनी है ?|is Maruti indian ?

उत्तर – हां, मारूति एक इंडियन कंपनी है इसका हैडक्वार्टर दिल्ली में स्थित है ।

2. मारूति कंपनी का स्थापना कब हुई ?

उत्तर – मारूति कंपनी की स्थापना भारत सरकार द्वारा 24 जनवरी 1981 को सुजुकी कार्पोरेशन (Minor Partner) के साथ मिलकर की गई थी ।

3. मारूति का पुराना नाम क्या था ?|What was the old name of Maruti ?

उत्तर – मारूति का पुराना नाम मारूति उद्योग लिमिटेड था । 2003 तक यह भारत सरकार के स्वामित्व में थी ।

4. मारूति की पहला प्लांट कहां पर लगा था ?|Where was the first plant of maruti was established ?

उत्तर – मारूति कंपनी का पहला प्लांट गुरूग्राम, हरियाणा में लगाया गया था ।

5. भारत में सबसे लंबी रेंज वाली इलेक्ट्रिक कार कौनसी है ?| Which electric car has the longest range ?

उत्तर – Mercedes EQS – 485 Miles

6. क्या मारूति इलेक्ट्रिक कार लांच कर रही है ?|Is Maruti lauching electirc car ?

उत्तर – मारूति 2025 में इलेक्ट्रिक कार लांच करेंगी । टोयोटा और मारूति मिलकर इलेक्ट्रिक कार बनायेंगे ।

प्रिय मित्र, यदि हमारी यह पोस्ट आपको अच्छी लगी है तो इस अच्छी जानकारी को अपने मित्रों और परिवारजनों के साथ अवश्य शेयर करें और हां, कॉमेंट बॉक्स में हमें अपना फीडबैक अवश्य दें । सच पूछें तो हमें आपको सुझावों की बङी प्रतीक्षा रहती हैं क्योंकि एक आप लोग ही हैं जो पोस्ट को पढकर हमें बतला सकते हैं कि हम और क्या सुधार करें कि आपको और भी बेहतर कांटेंट उपलब्ध करा सकें ।

यदि आप एक इलेक्ट्रिक कार मैन्युफैक्चरर हैं या इलेक्ट्रिक कार डीलर हैं और हमसे अपने उत्पाद के संबंध में पोस्ट लिखवाना चाहते हैं तो हमें यहां पर संपर्क करें – [email protected]

Leave a comment

%d bloggers like this: