दिल्ली सरकार अपने सभी पुराने पैट्रोल और डीजल वाहनों को बदलेगी इलेक्ट्रिक वाहनों के साथ | Delhi Govt. replacing its old diesel and petrol vehicles with electric ones under Delhi Govt EV Policy 2020.

संक्षेप –

  • Delhi Govt EV Policy 2020 के लांच होने के बाद दिल्ली सरकार के सभी विभागों और स्वायत्त निकायों ने अपने पुराने पैट्रोल और डीजल सरकारी वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों से बदलना शुरू कर दिया है।
  • इस इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी (Delhi Govt EV Policy 2020) के अंतर्गत करीब 2000 पुराने पैट्रोल और डीजल वाहनों को बदला जायेगा
Delhi Govt EV Policy 2020
Delhi Govt replacing old vehicles under its EV Policy 2020

प्रदूषण के खिलाफ युद्ध पर जोर के चलते दिल्ली सरकार ने अपने पुराने पैट्रोल और डीजल वाहनों को स्क्रैप कर उनकी जगह इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाना शुरू कर दिया है ।

पुराने सरकारी वाहनों को भेजा जा रहा स्क्रैप, 12 नये ईवी खरीदे

दिल्ली सरकार के GAD (General Administration Department) ने मंत्रियों और उच्च अधिकारियों द्वारा प्रयोग में लाये जाने वाले 12 नये इलेक्ट्रिक वाहन लिये हैं ।

GAD के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बतलाया कि – “जो वाहन अपना जीवनकाल पूरा कर चुके हैं हमने उन्हें पहचान कर स्क्रैप के लिये भेजना शुरू कर दिया है ।”

NGT (National Green Tribunal) के एक आदेश के अनुसार दिल्ली में 15 साल से पुराने पैट्रोल वाहन और 10 साल से पुराने डीजल वाहन का प्रयोग करना प्रतिबंधित है ।

सरकार ने पिछले साल ही दे दिये थे निर्देश (Delhi Govt EV Policy 2020)

जब से इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिस अगस्त 2020 (Delhi Govt EV Policy 2020) लांच हुई है, दिल्ली सरकार के कई विभागों और दिल्ली सरकार की स्वायत्त निकायों (Autonomous bodies) ने अपने बेङे में शामिल पुराने पैट्रोल और डीजल वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों के साथ बदलना शुरू कर दिया है ।

“यह पारंपारिक वाहनों की तुलना में इलेक्ट्रिक वाहनों की अपेक्षाकृत अधिक कीमत को ध्यान में रखकर मामल-दर-मामला आधार पर किया जा रहा है ।” – दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा ।

पिछले साल फरवरी के अंत में दिल्ली सरकार ने अपने अंतर्गत सभी विभागों और इसकी स्वायत्त निकायों (Autonomous bodies) को अपने बेङे के लिये केवल इलेक्ट्रिक वाहन ही खरीदने का निर्देश दिया था ।

वीआईपी वाहनों की नहीं बदलेगी नंबर प्लेट

GAD कई पुराने VIP वाहन जो 0001 जैसी पंजीकरण संख्या वाले हैं जो दिल्ली सचिवालय में खङे हैं उनको भी Delhi Govt EV Policy 2020 के अंतर्गत इलेक्ट्रिक व्हीकल्स से बदलने पर काम कर रहा है ।

“जब इन वाहनों को रद्द कर दिया जायेगा तो विभाग द्वारा खरीदे जाने वाले नये वाहनों के पंजीकरण के लिये उनके वीआईपी पंजीकरण संख्या को बरकरार रखा जायेगा” – एक अधिकारी ने कहा ।

दिल्ली इलेक्ट्रिक वाहन नीति के अंतर्गत 12 नये वाहन मॉडल उपलब्ध हैं जो खरीद और सरकार द्वारा प्रदान की जा रही स्क्रैपिंग इन्सेंटिव के लिये योग्य हैं ।

अन्य पढें –

FAQs

Q. दिल्ली में कुल कितने सरकारी वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों से बदला जायेगा ?

उत्तर – दिल्ली सरकार के बङे के 2000 पुराने डीजल और पैट्रोल वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों से बदला जायेगा ।

Q. दिल्ली में कुल कितने ईवी चार्जिंग स्टेशन है? (Total EV Charging stations in delhi ?)

उत्तर – दिल्ली में 24 फरवरी 2022 तक कुल 169 ईवी चार्जिंग स्टेशन हैं ।

Q. दिल्ली में कुल कितने ईवी चार्जिंग प्वाइंट हैं?

उत्तर – कुल चार्जिंग प्वाइंट की बात करें तो दिल्ली में दिनांक 24 फरवरी 2022 तक कुल 377 ईवी चार्जिंग प्वाइंट हैं।

किसी भी इलेक्ट्रिक वाहन के प्राइस, स्पेशिफिकेश, और फीचर्स के बारे में विस्तार से पढने के लिये – यहां पर क्लिक करें

हमें यहां पर follow करें –

यदि आप एक इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता हैं या इलेक्ट्रिक वाहन डीलर हैं और हमसे अपने प्रोडक्ट के संबंध में पोस्ट लिखवाना चाहते हैं अथवा वेब स्टोरी बनवाना चाहते हैं तो हमसे यहां पर संपर्क करें – [email protected]

इस न्यूज को अपने मित्रों के साथ सबसे पहले शेयर कर अवश्य बतलायें कि आप कितने अपडेटड रहते हैं, कोई प्रश्न हो तो अवश्य पूछें, सुझाव हो तो अवश्य दें । Electric Parivahan पर प्रत्येक कॉमेंट का उत्तर दिया जाता है।

Leave a comment

%d bloggers like this: